मानसागरी के अनुसार लग्‍न और राशिवार जातकों के गुण

मानसागरी के अनुसार लग्‍न और राशिवार जातकों के गुण मानसागरी ज्‍योतिष गणित और फलित के सबसे सशक्‍त शास्‍त्रों में से एक है। पांच खण्‍डों में बंटी मानसागर...

नवग्रह जातक के कर्म-कुकर्म के आधार पर भी शुभ-अशुभ फल देते है। जानिए कैसे?

नवग्रह जातक के कर्म-कुकर्म के आधार पर भी शुभ-अशुभ फल देते है। जानिए कैसे? सूर्य- जब जातक किसी भी प्रकार का टैक्स चुराता है एवं किसी भी जीव की आत्मा को...

राहु की युति Conjusctions of Rahu

Table of Contents राहु की युति Conjusctions of Rahuराहु सूर्य की युतिराहु  चंद्र की युतिमंगल राहु की युतिबुध राहु युतियदि बुध अस्त न होगुरु राहु की यु...

नवग्रह पूजन विधि Navgrah Pujan Vidhi

Table of Contents नवग्रह पूजन विधि Navgrah Pujan Vidhiसूर्य पूजन विधिचंद्र पूजन विधिमंगल  पूजन विधिबुध पूजन विधिबृहस्पति पूजन विधिशुक्र पूजन विधिशनि प...

नवग्रहों की प्रमुख वस्तुएं

Table of Contents नवग्रहों की प्रमुख वस्तुएंसूर्य ग्रह की प्रमुख वस्तुएंचन्द्र ग्रह की प्रमुख वस्तुएंबुध ग्रह की प्रमुख वस्तुएंबृहस्पति ग्रह की प्रमुख...

शुक्र का अन्य ग्रहो के साथ युति फल

Table of Contents शुक्र का अन्य ग्रहो के साथ युति फलसूर्य शुक्र युति फलचंद्र शुक्र युति फलमंगल शुक्र युति फलगुरु शुक्र युति फलशनि शुक्र युति फल शुक्र...

ज्योतिष शास्त्र में सूर्य

Table of Contents ज्योतिष शास्त्र में सूर्यसूर्य और अंशसूर्य की स्थितिश्रीमदभागवत पुराण में श्री शुकदेव जी के अनुसारसूर्य के पास सूर्य की चालसूर्य का...

कुण्डली के बारह भावों की महादशा Kundali Ke Baharh bhavo ki Mahadasha

Table of Contents कुण्डली के बारह भावों की महादशा Kundali Ke Baharh bhavo ki Mahadashaकुण्डली के बारह भावों की महादशाभाव मालिक लग्नेश की दशाभाव मालिक...

कुण्डली के कुछ अशुभ योग

1).चांडाल योग=गुरु के साथ राहु या केतु हो तो जातकको चांडाल दोष है 2).सूर्य ग्रहण योग=सूर्य के साथ राहु या केतु हो तो 3). चंद्र ग्रहण योग=चंद्र के साथ...

नकारात्मक शक्ति का प्रभाव ज्योतिष के अनुसार

नकारात्मक शक्ति का प्रभाव ज्योतिष के अनुसार यदि लग्न, पंचम, षष्ठ, अष्टम या नवम भाव पर राहु, केतु, शनि, मंगल, क्षीण चंद्र आदि का प्रभाव हो, तो जातक के...

2019 नया साल, सुझाव एवं उपाय

Table of Contents २०19 राशिफल उपाए सहित2019 नया साल, सुझाव एवं उपायमेष राशि 2019वृष राशि 2019मिथुन राशि 2019कर्क राशि 2019सिंह राशि 2019कन्या राशि 201...

तलाक एवं पुनर्विवाह: एक विश्लेषण

तलाक एवं पुनर्विवाह: एक विश्लेषण ज्योतिषशास्त्र में बृहस्पति एवं शुक्र को श्रेष्ठ शुभ फलदायक माना गया है। मानसागरी ग्रंथ के अनुसार बृहस्पति या शुक्र क...

Navmansh कुंडली भविष्यवाणी

भावात्-भावम् ! अर्थात्त भाव से भाव का परीक्षण। कुछ सदस्यमित्रों के आदेश पर एक बार पुन:। ज्योतिषग्रंथों के अपने अध्ययन में हमने सीखा और समझा है कि छठेभ...

लग्न (प्रथम भाव) में बृहस्पति, 1 घर में बृहस्पति

ज्योतिष में कुण्डली के बारह भावों में से केंद्र (पहला, चौथा, सत्व, दसवां भाव) स्थान तथा नवग्रहों में से बृहस्पति दोनों का ही बड़ा विशेष महत्व है, बृहस्...

अस्त ग्रहों का प्रभाव Ast Graho ke Prabhav

जन्म कुंडली का विश्‍लेषण करते समय अस्त ग्रहों पर भी विचार करना चाहिए। कुंडली में पाये जाने वाले अस्त ग्रहों का अपना एक प्रभाव होता है एवं एक दैवज्ञ का...