Divorce in Astrology

यह जानकारी खास कर महिलाओं के लिए है, क्योंकि विवाह एक बहुत महत्वपूर्ण निर्णय होता है जीवन में, तो विवाह के बाद क्यों समस्या आती है क्यों अलगाव कि स्थिति पैदा होती है और अनेकों लोग कहते हैं कि हमारे तो गुण काफी अच्छे से मिले थे फिर ऐसा क्यों होता है जब भी कोई विवाह हो किसी का तो सब पडिंत को भूल जाओ और अपनी और कुडली को देखो

whatsapp-image-2016-12-04-at-21-48-32

अगर 7 कि जगह 4 या 5 लिखा हो और राहु वही हो और बलाबल यानि डिग्री में ज्यादा होतो तलाक होना निश्चित है यदि डिग्री 0-6 के बीच में हैं तौ  सिर्फ़ लड़ाई झगड़े होते हैं तलाक नहीं होगा, और अगर डिग्री 6-18 है तो तलाक होगा ही यदि डिग्री 24 से 30 के बीच में है तो जीवन चलता तो पर जबरन का ही होता है किसी कि भी कुडली में अगर यह समस्या होतो  उसको हिम्मत रखनी चाहिए

क्योंकि उसके वैवाहिक जीवन में समस्या आयेगी जरुर चाहै कितने ही गुण मिलते हो कुछ फायदा नहीं है और ऐसे में सबसे बड़ी गलती है कि अच्छे जानकार तो बता देता है पर कम जानकार इस विषय में नहीं बता और कारणवश जीवन बर्बाद होता है तो करना क्या है कि जब आगे से किसी भी जानकार का विवाह होतो यह देख लें जरूर⁠⁠⁠⁠ तब ही विवाह कि बाद आगे बढाये

क्योंकि राहु ऐसा करता जरूर ही है इससे बचने के उपाय बता रहा हूँ ऐसी स्थिति में उपाय ज्यादा कारगर नहीं है कुडली का सही मिलान ही सबसे जरूरी है जहां लडकी की कुंडली में राहु अगर वहां लडके कि कुडली में बुध होतो चल जाता है उपाय जो बता रहा हूँ वह सुनियोजित करें राहु की साधना की जाय ताकि वह शांत हो जाये चांदी धारण जरूरी ही करें साधना का मतलब जाप से है

गुरु को मजबूत करे और महागौरी साधाना करे तब इससे छुटकारा पाया जा सकता है सबसे बड़ी बात है कि ऐसे व्यक्ति को जो जीवन साथी प्राप्त होगा वह मांस मंदिरा का सेवन करने वाला होगा और आचार व्यवहार में झगड़ालू हो सकता  है जल्द ही प्रकाशित करूंगा तो यह स्थिति किसी और के साथ पैदा न हो तो आप इसको ध्यान में रखे लेकिन कुछ बातों का ध्यान रखें जरूर ही सोच समझ कर ओर भरोसे वालै लोगो को ही सलाह दे क्योंकि इंसान आपकि बात पर कम विश्वास करेगा उल्टा आपसे ही बहस करेगा कि हमारे पंडितों ने काफी शादियां कराई है वो जो कह रहे हैं वो सही है और विवाह करा देंगे और उल्टा आप पर नाम आयेगा कि क्यों हमारी शादि तुडवा रहे हो

क्योंकि इंसान नहीं समझेगा उसकी वजह यह भी है कि उसके साथ शायद होना ही यह सब हैं तो सोच समझ कर ही बताए लेकिन आप सिर्फ अपना धर्म निभाये ज्यादा न करें मैंने ज्ञान दिया इसको ग्रहण कर अपना धर्म निभाये अगर एक को भी बचा लिया तो जीवन सफल आपका कार्य सिर्फ कह कर शांत हो जाना है किसी से बहस नहीं करनी है तो यह कुछ जानकारी जो मैने दी है उनका अनुसरण करें क्योंकि किसी न किसी के परिवार में एक दो ऐसे होते हैं और हम किस्मत खराब का नारा देते हैं

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.