Browsing: न्त्रसिद्धि के लक्षण विना क्लेश के मनोरथ सिद्ध होना ही मन्त्रसिद्धि का प्रधान लक्षण है। साधक जब जिस बात की इच्छा करे